Category: Bewafa Shayari

 

Bharosa kyon mera…..भरोसा क्यों मेरा……….

d23d97398f73ca572a594050d4fa268a

Bharosa kyon mera tod diya toone |
kyon doosare se naata jod lay toone
hamane to samajha tha sada tujhako apana |
phir kyon samajhakar gair mujhako, akela chhod diya toone ||

भरोसा क्यों मेरा तोड़ दिया तूने |
क्यों दूसरे से नाता जोड़ लय तूने
हमने तो समझा था सदा तुझको अपना |
फिर क्यों समझकर गैर मुझको, अकेला छोड़ दिया तूने ||

Yaad vahee aate…..याद वही आते…….

Alone-boy-sadness-cute-dark-waiting-someone

Yaad vahee aate hain jo aksar dard dete hain |
banaakar apana saphar mein, akela chhod dete hain ||

याद वही आते हैं जो अक्सर दर्द देते हैं |
बनाकर अपना सफर में, अकेला छोड़ देते हैं ||

Ek bevapha se mainne…..एक बेवफा से मैंने…..

Shayari on bewafa sanam in hindi

Ek bevapha se mainne pyaar kya |
dil dekar us par etebaar kya |
hamane to samajh tha use ham dard apana,
magar banakar bedard usane, dil par mera vor kya ||

एक बेवफा से मैंने प्यार क्या |
दिल देकर उस पर एतेबार क्या |
हमने तो समझ था उसे हम दर्द अपना,
मगर बनकर बेदर्द उसने, दिल पर मेरा वॉर क्या ||

Apane pyaar ko vo pyaar….अपने प्यार को वो प्यार…..

images

Apane pyaar ko vo pyaar samajhate hai
doosare ke pyaar ko vo bekaar samajhate hai
khud rahate hai dusaro ke saath vo
lekin hamaara rahana vo bekaar samajhate hai

अपने प्यार को वो प्यार समझते है
दूसरे के प्यार को वो बेकार समझते है
खुद रहते है दुसरो के साथ वो
लेकिन हमारा रहना वो बेकार समझते है

Naadaan aur naasamajhan se kabhee…..नादाँ और नासमझं से कभी…..

alone-girl-near-river

Naadaan aur naasamajhan se kabhee dil na lagaana
varana phaalatoo mein padega tumako pachhataana
nahin jaanate vo pyaar kee keemat kya hotee hai
unakee to aadat hee hotee hai har kisee se dil lagaana

नादाँ और नासमझं से कभी दिल ना लगाना
वरना फालतू में पड़ेगा तुमको पछताना
नहीं जानते वो प्यार की कीमत क्या होती है
उनकी तो आदत ही होती है हर किसी से दिल लगाना