Kisee shaam kee kiran hai too……किसी शाम की किरण है तू ……..

Cute-Love-Shayari

kisee shaam kee kiran hai too ||
basee dil mein dhadakan hai too ||
har khvaahish ka man hai too ||
chalatee saanson ka tan hai too ||
nahin hai duniyaan mein tujhasa koee

aaja sabako arz bata doon ||
aaja tujhako tujhee se chura loon
kaheen dil mein apane chhupa loon
kitana pyaar hai mujhako tumase
aaja milakar tujhako bata doon ||
nahin hai duniyaan mein tujhasa koee
aaja sabako aaj bata doon |
nahin hai duniyaan mein tujhasa koee

in baadalon ka rang hai too |
paanee kee tarang hai too ||
udatee patang hai too ||
naee umang hai too ||
aaja dil mein apane basa loon |
apanee aankhon mein tujhako chhupa loon |
hai khvaaheesh jo bhee dil mein
use poora karake dikha doon ||
nahin hai duniya mein tujhasa koee
aaja sabako aaj bata doon ||
nahin hai duniyaan mein tujhasa koee

किसी शाम की किरण है तू ||
बसी दिल में धड़कन है तू ||
हर ख्वाहिश का मन है तू ||
चलती सांसों का तन है तू ||
नहीं है दुनियां में तुझसा कोई

आजा सबको अर्ज़ बता दूँ ||
आजा तुझको  तुझी से चुरा लूँ
कहीं दिल में अपने छुपा लूँ
कितना प्यार है मुझको तुमसे
आजा मिलकर तुझको बता दूँ ||
नहीं है दुनियां में तुझसा कोई
आजा  सबको आज बता दूँ |
नहीं है दुनियां में तुझसा कोई

इन बादलों का रंग है तू |
पानी की तरंग है तू ||
उड़ती पतंग है तू ||
नई उमंग है तू ||
आजा दिल में अपने बसा लूँ |
अपनी आँखों में तुझको छुपा लूँ |
है ख्वाहीश जो भी दिल में
उसे पूरा करके दिखा दूँ ||
नहीं है दुनिया में तुझसा कोई
आजा सबको आज बता दूँ ||
नहीं है दुनियां में तुझसा कोई

Comments are Closed